गोविंद धाम में आपका स्वागत है!

श्रीगोविंदधाम का लक्ष्य मानव जाति का सम्पूर्ण विकास करना है। शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक एंव सामाजिक तल को ध्यान में रखते हुए शरीर, मन और उर्जा का तालमेल रखते हुए प्रत्येक मनुष्य को आत्मज्ञान की तरफ अग्रसर करना है।

शारीरिक और मानसिक विकास

आज मनुष्य को अनेकों तरह की शारीरिक तथा मानसिक बिमारियों ने घेर लिया है जिनके कारण मनुष्य दिन प्रतिदिन कमजोर होता जा रहा है एंव नशे का सहारा ले रहा है। ...

आध्यात्मिक विकास

श्रीगोविंदधाम गतौली, जींद, हरियाणा का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक जीव का आध्यात्मिक विकास करना है। पूरी मानव जाति के अंदर जागृति फैलाना है। जीव को सनातन धर्म के माध्यम से साकार से निराकार ...

सामाजिक विकास

श्रीगोविंदधाम गतौली, जींद हरियाणा में सद्गुरू रणदीप जी द्वारा समाज को एक नई दिशा की और ले जाने का प्रयास जारी है। इसके अंतर्गत अनेकों अभियान...

श्री गोविंद धाम के बारे में

श्री गोविंद धाम (गतौली) जींद, हरियाणा की स्थापना :- 25 दिसम्बर 2016 को श्री गोविंदधाम की नींव रामेश्वरम् से आऐ ‘‘रामसेतु’’ के पत्थर से रखी गई और आश्रम के निर्माण का कार्य आरंभ हो गया। यह आश्रम एन-एच-71 (नेशनल हाईवे-71), जींद-रोहतक रोड, गाँव गतौली और जुलाना के मध्य स्थित है। 2017, 2018 में आश्रम का निर्माण कार्य लगभग दो वर्षों तक चला और 27 जुलाई, 2018 (गुरू पूर्णिमा) पर सद्गुरु रणदीप हमेशा के लिए यहाँ आ गए। यहाँ अध्यात्म, जागृति, दिव्यता के खेल के साथ लोगों के दुख निवारण एंव न्याय का कार्य आरम्भ हो गया। आश्रम में सभी मूलभूत सुविधाएं प्रत्येक व्यक्ति के लिए निशुल्क हैं। आगंतुक के लिए नहाने, खाने एंव सोने की सभी वयवस्थाएँ उपलब्ध हैं। ध्यान-साधना के लिए विशेष ‘‘ध्यान-कक्ष’’ का निर्माण किया गया है। जैसे ही आप श्री गोविंद धाम में प्रवेश करते हैं, एक गहरी उर्जा का अनुभव होने लगता है, मन अपने आप शांत होने लगता है, क्योंकि यहाँ पर गुरू तत्व का वास है। ध्यान-साधना के लिए इससे उचित जगह नहीं हो सकती।

यहाँ आने वाले प्रत्येक दर्शनार्थी को गुरूजी के दर्शनों का सौभाग्य प्राप्त होता है कोई भी किसी भी प्रकार की समस्या हो, अध्यात्मिक या शारीरिक रोगों से सम्बंधित या साधना से सम्बंधित सवाल, सभी समस्याओं का हल किया जाता है। योग्य साधको को ब्रहमसूत्र दीक्षा, नामदान दीक्षा भी दी जाती है।

श्री गोविंदधाम गतौली, जींद हरियाणा के मुख्य उद्देष्य ‘‘धर्म की स्थापना’’ में स्वयं को भागीदार बनाये।

हम क्या करते हैं

हमारा लक्ष्य मानव जाति का सम्पूर्ण विकास करना है। शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक एंव सामाजिक तल को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक मनुष्य को आत्मज्ञान की तरफ अग्रसर करना है।

श्री गोविंद धाम के उल्लेख

बुद्धि और विचारों से ऊपर उठे बिना , ह्रदय मे पवित्रता लाए बिना , आप उस तत्वज्ञान को ग्रहण नही कर सकते ।

आगामी कार्यक्रम

श्री गोविन्द धाम ने आपको शक्ति और स्थायित्व दिया है

श्री गोविंद धाम ने जो दृष्टिकोण और अभ्यास दिया है, वह आपको तनाव से अत्यधिक परेशान हुए बिना दिन गुजारने की शक्ति और स

Jitender ( New Delhi )

श्री गोविंद धाम में अध्यात्म और विज्ञान है।

श्री गोविंद धाम में अध्यात्म और विज्ञान है। मुझे लगता है कि यह जीवित रहने का विशेष रूप से अद्भुत समय है क्योंकि अध्�

Soniya Rana ( Sonipat Haryana )

श्री गोविंद धाम ध्यान के लिए एक महान स्थान है

मैंने इस छोटी सी जगह में लिखने के लिए बहुत कुछ सीखा! मैं यह भी जानता हूं कि यह सिर्फ पहला कदम है, और इस प्रशिक्षण ने इत�

Sushma Shroha

हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं

एक गर्वित स्वयंसेवक बनें

गौरवशाली सेवादार बनें- श्रीगोविंदधाम गतौली, जींद हरियाणा में हजारों की संख्या में सेवादार कार्यरत हैं। ये सभी सेवादार गुरूजी के आदेश अनुसार पूरी निष्ठा के साथ सेवादान कर रहे हैं। गुरूजी बताते हैं कि सेवा, सत्संग, सुमिरन और समर्पण इन चार चीजों का परमात्मा तक पहुंचने में विशेश योगदान होता है। इनमें सेवा सबसे पहला अंग है, जो तन, मन, धन से धाम के कार्यों के लिए सदैव तत्पर है। वहीं सच्चा सेवादार है।