गोविंद धाम में आपका स्वागत है!

पूर्णिमा प्रोग्राम

पूर्णिमा प्रोग्राम
26th
Dec

पूर्णिमा प्रोग्राम

लोग मार्गशीर्ष पूर्णिमा को देवता भगवान विष्णु से भी जोड़ते हैं और इसे उनके अवतार मत्स्य के दिन के रूप में मनाते हैं। लोगों का मानना ​​है कि इस दिन भगवान विष्णु ने पहले मनुष्य मनु और पहली मछली मत्स्य को भीषण बाढ़ से बचाया था। और यह एक नये युग की शुरुआत का प्रतीक है। अपने आध्यात्मिक महत्व के अलावा, मार्गशीर्ष पूर्णिमा उत्सव और आनंद का भी समय है। यह दोस्तों और परिवार के साथ मिलने, उपहारों का आदान-प्रदान करने और स्वादिष्ट भोजन का आनंद लेने का समय है। ज्योतिष शास्त्र में, लोग महत्वपूर्ण निर्णय लेने या नए उद्यम शुरू करने के लिए इस दिन को अत्यधिक लाभकारी मानते हैं। लोगों का मानना ​​है कि इस दिन कोई भी नया उद्यम या प्रयास शुरू करने से सफलता और बड़ी समृद्धि मिलती है।



कार्यक्रम

पूर्णिमा प्रोग्राम

होली प्रोग्राम

पूर्णिमा प्रोग्राम

सोशल मीडिया पर फॉलो करें